Saturday, December 3, 2022
- Advertisement -

इस गांवमें बच्चे के जन्मके बाद लगाया जायेगा पौधा, वृक्षारोपण की मुहिम को मिलेगी गती

- Advertisement -
- Advertisement -
नान्देड़ जिल्है के उमरी तहसीलमें एक छोटासा गांव है ढोलउमरी है ,ऐसे इस गांव की कोई खास पहचान नही थी ,यह गांव तब सुर्खियोंमें जब इस गांवके बाशिंदोंने कल हर्षउल्लास के साथ पिछले वर्ष गांव लगाये गये पेड़ो का जन्मदिन मनाया .
पिछले वर्ष गांववालोने 200 विभिन्न किस्मोके पौधे रास्ते के दोनों किनारेपर लगाया थे,जिसमे खास तौरपर बरगद ,पीपल, निम,नारियल ,रबरट्री ऐवम अलग अलग किस्मके फूल पौधे थे .
इस वर्ष 1100पौधों के रोपण की सुरवात गांववाले कर चुके हैं, इस गांवकी जनसंख्या लगबग 1500 के करीब है ,इस जनसंख्या के तीन प्रतिशत पेड़ लगाने का निर्णय गांववलोने लिया है ,
इसके अलावा एक महत्वपूर्ण निर्णय यह लिया है की, इस गांवमें कोई भी बच्चा जन्म लेता है तो उसके आगमनप्रीत्यर्थ गांववाले वृक्षारोपण करके जश्न मनायेगे.
कल कोंकण कृषि विभाग में कार्यरत इस गांव के भूमिपुत्र स्वप्निल येरावाड के घर नन्ही परी आयी तो  माँबापने 111पेड़ लगाने का निर्णय लिया है.
गांववासियों के इस अद्धभुत ऐवम प्रेरणादायी वसुंधरा बचाव मुहिम को सलाम
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -